Culture

भगवान बिरसा मुंडा की जयंती भारतीय जन महासभा के द्वारा देश-विदेश के अनेक स्थानों पर मनाई गई।

जमशेदपुर : इस शुभ अवसर पर संस्था के अध्यक्ष धर्म चंद्र पोद्दार ने कहा कि भगवान बिरसा मुंडा ने स्वतंत्रता आंदोलन में बहुत अधिक बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया था। आदिवासियों के जल, जंगल व जमीन की रक्षा हेतु बराबर लड़ते रहे। इसीलिए आदिवासी समुदाय के साथ-साथ इस क्षेत्र के सभी लोगों ने उनको भगवान का दर्जा दिया।जमशेदपुर में जयंती मनाने वालों में श्री पोद्दार के अलावे प्रकाश मेहता, पिंकी देवी,

अभेद सार्वजनिक प्रकृति पूजा है छठ महापर्व

छठ पर्व का समय चल रहा है। हम सभी जानते हैं कि यह संयुक्त पर्व दीपावली के उपरान्त चतुर्थी से सप्तमी तक चलने वाला चार दिवसीय महापर्व है। छठी मइया के संदर्भ में कई मतों के बीच सबसे उपयुक्त मत यह है कि यह षष्ठी तिथि का अपभ्रंश होकर छठी हुआ है। अर्थात् साक्षात् देव भगवान भास्कर और छठी मइया की पूजा पर आधारित है यह पर्व। भगवान सूर्य और

काशी सुता मनु

काशी की चिंगारी जाकर, झाँसी में जब फूटी थी।लाल लट्टुओं की सेना पर, काली बनकर टूटी थी।।दाँतों तले लगाम हाथ दो खड्ग पीठ दामोदर था।झाँसी का भविष्य केवल अब रानी के निर्णय पर था।। विधवा रानी देख फिरंगी की जिह्वा ललचाई थी।और राज्य की बागडोर अब रानी के कर आई थी।।षड्यंत्रों की साजिश में कुछ अपने हुए पराये थे।मातृभूमि पर शीश लुटाने, सरफरोश भी आये थे।। जब जनरल ह्यूरोज नाग

रक्षाबंधन पर विशेष

राखी : रक्षासूत्र बांधने का शक्तिशाली पवित्र मंत्र राखी सामान्यतः बहनें, भाई को बांधती हैं, परंतु पुत्री द्वारा पिता, दादा, चाचा को अथवा कोई भी किसी से भी संबंध मधुर बनाने की भावना से, सुरक्षा की कामना के साथ रक्षासूत्र बांध सकता है। प्रकृति संरक्षण के लिए वृक्षों को राखी बांधने की परंपरा भी प्रारंभ हो गई है।सनातन परंपरा में किसी भी कर्मकांड व अनुष्ठान की पूर्णाहुति बिना रक्षासूत्र बांधे

बरसाने में होली शुरु, आ गया शेड्यूल

नई दिल्‍ली। बसंत पंचमी के साथ ही ब्रज में अबीर-गुलाल उड़ना शुरू हो जाता है।मंदिरों में बरसता रंग, हारमोनियम और ढोलक की थाप पर गाए जाते फाग के साथ ही दूर-दूर से आए श्रद्धालुओं का उत्‍साह इस मौसम को आनंद से भर देता है।ऐसे में पूरे एक महीने तक ब्रज की अलग-अलग जगहों पर मनाई जाने वाली होली की तैयारी भी शुरू हो जाती है। ब्रज की प्रसिद्ध होली का पूरा

गोराबाजार स्थित दुर्गा मंदिर की भव्य सजावट

गाजीपुर । गोराबाजार स्थित माँ दुर्गा की प्राचीन मंदिर इस समय आकर्षक का केंद्र बना हुआ है क्योंकि नवरात्र में मंदिर को केवल फूलों से सिंगार किया गया है और दर्शन करने के लिए भक्तगणों का तांता लगा हुआ है।राजेश कुमार प्रजापति उर्फ पप्पू नेता पूर्व महामंत्री पी जी कॉलेज के सहयोग से पिछले वर्ष की भांति इस वर्ष भी मंदिर परिसर को बेहद खूबसूरत तरीक़े से सजाया गया है

'बिहार में का बा' और 'मिथिला में इ बा' के बीच बिहार की सियासत

‘बिहार में का बा’ को लेकर बिहार की   सियासत गरम हो गया है। भभुआ निवासी नेहा सिंह राठौर भोजपुरी लहजे में बिहार की राजनीति पर तीखा प्रहार कर रही हैं। जिसके जवाब में बिहार की एक अन्य मशहूर गायिका मैथिली ठाकुर ‘ मिथिला में इ बा’ गाकर जवाब दिया है। कोई कलाकार सरकार का पक्ष चुनता है या जनता का, ये उसका अपना फैसला है. ऐसे फैसलों के पीछे इंसान

Vashtu Shastra

सुकून के घर के लिए सबसे पहले दिशा का चयन करना चाहिए। हमारे अनुसार सबसे उत्तम दिशा- पूर्व, ईशान और उत्तर है। वायव्य और पश्‍चिम सम है। आग्नेय, दक्षिण और नैऋत्य दिशा सबसे खराब होती है। आओ जानते हैं कि घर के भीतर किस दिशा में क्या होना चाहिए। उत्तर : इस दिशा में खिड़की, दरवाजे, घर की बालकनी होना चाहिए। यहां बाहर पानी के टैंक या जल का स्थान