Thursday, April 25, 2024
spot_img
HomeUttar PradeshGhazipur....और नायब साहब फिलहाल स्थानांतरित

….और नायब साहब फिलहाल स्थानांतरित

गाजीपुर। सेवराई तहसील के नायब तहसीलदार हिम्मत बहादुर द्वारा हिंदू देवी-देवताओं पर किए गए अभद्र टिप्पणी के उपरांत जिलाधिकारी ने कार्रवाई करते हुए फिलहाल उनका स्थानांतरण कर दिया, साथ ही पूरे प्रकरण की जांच करा कर उनके ऊपर कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है। ज्ञात हो कि मंगलवार की दोपहर उच्च शिक्षा सचिव, सीडीओ सहित कई उच्चाधिकारियों ने मां कामाख्या का दर्शन पूजन किया।अधिकारियों के साथ गये नायब तहसीलदार ने मां कामाख्या का दर्शन पूजन के उपरांत वापस तहसील लौटे नायब तहसीलदार हिम्मत बहादुर ने अपनी हिम्मत दिखाते हुए तहसील परिसर में सार्वजनिक स्थान पर हिंदू देवी देवताओं पर एवं अयोध्या में निर्माणाधीन श्री राम मंदिर को दुकानदारी बताने लगे।जब मीडिया कर्मियों की नजर उन पर पड़ी और उन्होंने उनके बयान को रिकॉर्ड करना शुरु किया तो भी हिम्मत बहादुर की हिम्मत नहीं मानी और उन्होंने चैलेंज करते हुए कहा कि मैं डंके की चोट पर कह रहा हूं कि राम मंदिर निर्माण एक दुकानदारी है जो करना होगा कर लेना।नायब तहसीलदार के इस टिप्पणी को जब मीडिया कर्मियों द्वारा जिलाधिकारी सहित अन्य उच्चाधिकारियों को अवगत कराते हुए शोसल मिडिया के अन्य प्लेटफॉर्म पर वायरल किया गया तो जिलाधिकारी ने त्वरित कार्रवाई करते हुए नायब तहसीलदार का स्थानांतरण कर दिया।

स्थानांतरण के पश्चात भी नायब तहसीलदार के इस विवादित बयान का विरोध जनपद मे थमने का नाम नहीं ले रहा है। मां कामाख्या धाम मंदिर के महंत आकाश राज तिवारी ने कहा कि एक उच्च अधिकारी का इस प्रकार का बयान दुर्भाग्यपूर्ण है।इस पर जिलाधिकारी को कड़ी कार्यवाही चाहिए करनी चाहिए।अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा युवा के जिलाध्यक्ष राजकुमार सिंह ने कहा कि जनपद के किसी भी तहसील मे अगर इनकी तैनाती की जाती है तो वहां हम लोग पंहुच कर इनके कार्यालय मे तालाबंदी करेंगे।विश्व हिंदू परिषद के जिला मंत्री डॉक्टर बुद्ध नारायण उपाध्याय ने कहा कि नायब तहसीलदार का बयान दिमाग के दिवालिया की निशानी है ऐसे अधिकारियों पर कड़ी कार्यवाही की जानी चाहिए। नायब साह क्या बोले थे सुनिए ::

सेवराई के नायाब तहसीलदार के द्वारा राम मंदिर और पूजा करने वाले लोगों के खिलाफ दिए गए विवादित बयान को लेकर चर्चाओं का बाजार थमने का नाम नहीं ले रहा है। उधर जिलाधिकारी आर्यका अखौरी ने संबंधित दोषी नायब तहसीलदार हिम्मत बहादुर पर कार्यवाही के लिए शासन को पत्र लिखा है। जिलाधिकारी के करवाई को लेकर सम्बन्धित लोगों में हड़कंप मचा हुआ है।

वायरल वीडियो का संज्ञान लेकर जिलाधिकारी गाजीपुर आर्यका अखौरी ने संबंधित नायब तहसीलदार पर कार्यवाही के लिए शासन को पत्र लिखा है। बताया कि सरकारी अमला होने के बावजूद उन्होंने कोर्ट आफ कंडक्ट से बाहर जाकर बयानबाजी की है, जो अनुचित है। उन्हें अपनी मर्यादा का ख्याल रखना चाहिए। उनके खिलाफ कार्रवाई के लिए शासन को पत्र लिखा गया है जल्दी कार्रवाई सुनिश्चित कराई जाएगी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular