Saturday, April 13, 2024
spot_img
HomeUttar PradeshGhazipurCAA नागरिकता छीनने का नहीं, नागरिकता देने का क़ानून है : शिवम्...

CAA नागरिकता छीनने का नहीं, नागरिकता देने का क़ानून है : शिवम् चौबे

बजरंग दल गाजीपुर के जिला सह संयोजक शिवम् चौबे ने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी की सरकार ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) की अधिसूचना जारी करते हुए पड़ोसी देश पाकिस्तान, अफ़ग़ानिस्तान, बांग्लादेश के अल्पसंख्यकों हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी, ईसाई आदि को भारत की नागरिकता देने और उनके पुनर्वास का मार्ग प्रशस्त कर दिया है।

संकल्पसेसिद्धि_तक

उन्होंने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को लागु करने के लिए मा. प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी और मा. केंद्रीय गृहमंत्री श्री अमित शाह जी का हृदय से आभार जताया एवं कहा कि CAA किसी की नागरिकता छीनने का नहीं बल्कि नागरिकता देने का क़ानून है। CAA के लागू होने से अब पडोसी देशों के पीड़ित – वंचित गैर मुस्लिम अल्पसंख्यक हिन्दुओं, सिक्खों, बौद्धों, जैनों, पारसियों, ईसाईयों को भारत की नागरिकता देने और उनके पुनर्वास का मार्ग प्रशस्त हो गया है। इसी के साथ माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी की एक और गारंटी पूरी हो गई। मोदी जी की गारंटी यानी ‘हर वादे के पूरा होने की गारंटी होती है।
शिवम् चौबे ने कहा कि हम आए दिन पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के ऊपर हो रहे अत्याचार को सोशल मीडिया पर वीडियो या फोटो के माध्यम से देखते हैं। आए दिन हिन्दू लड़कियों के अपहरण और उनके साथ बलात्कार इत्यादि की घटनाओं के बारे में समाचार प्राप्त होता रहता है। इस क़ानून के लागू होने से पाकिस्तान, अफ़ग़ानिस्तान और बांग्लादेश जैसे देशों में रह रहे अल्पसंख्यक हिंदुओं, सिखों, जैन इत्यादि के लिए बहुत राहत मिल गया। कानून के लागू होने के इनके उत्साह और आत्मविश्वास को बल मिला है।।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular